हमें यह नहीं पता कि क्या ढ़कना है और क्या खुला रखना है ?

हमें यह नहीं पता कि क्या ढ़कना है और क्या खुला रखना है ??
हम भारत वासियों को कवर चढ़ाने का बहुत शौक है |
.
बाज़ार से बहुत सुंदर सोफा खरीदेंगे लेकिन फिर उसे भद्दे  सफेद जाली के कवर से ढक देंगे |🤔
.
बढ़िया रंग का सुंदर सूटकेस खरीदेंगे, फिर उस पर मिलिट्री रंग का कपड़ा चढ़ा देंगे |🤔
मखमल की रजाई पर फूल वाले फर्द का कवर!!!🤔
फ्रिज पर कवर!🤔
माइक्रोवेव पर कवर!🤔
वाशिंग मशीन पर कवर!🤔
मिक्सी पर कवर!🤔
थर्मस वाली बोतल पर कवर!🤔
TV पर कवर!🤔
कार पर कवर!🤔
कार की कवर्ड सीट पर एक और कवर!🤔
स्टेयरिंग पर कवर!🤔
गियर पर कवर!🤔
फुट मैट पर एक ओर कवर!🤔
सुंदर शीशे वाली डाइनिंग टेबल पर प्लास्टिक का कवर!🤔
स्टूल कवर!🤔
चेयर कवर!🤔
मोबाइल कवर!🤔
बेडशीट के ऊपर बेड कवर!🤔
गैस के सिलिंडर पर कवर!🤔
RO पर कवर!🤔
किताबों पर कवर!🤔
.
काली कमाई पर कवर!!!🤔
गलत हरकतों पर कवर!!!🤔
बुरी नियत पर कवर!!!🤔
लेकिन…..
.
कचरे के डिब्बे पर ढक्कन नदारद!!😁
खुली नालियों के कवर नदारद!!😁
कमोड पर ढक्कन नदारद!!😁
मैनहोल के ढक्कन नदारद!!😁
सर से हेलमेट नदारद!!😁
खुले खाने पर से कवर नदारद!!😁
आधुनिकता में तन से कपडे नदारद!!😁
इन्सानों के दिल से इंसानियत नदारद!!😁
.
क्या ढकना है और क्या खुला रखना है!!!
“व्हाट्सएप्प से साभार”
हम लोग आज तक ये नहीं समझ पाये।